API Kya Hai ? What is API in Hindi ?

3
926

नमस्कार दोस्तो, आपका Hindi से Help पर स्वागत है। यह एक ऐसा ब्लॉग है जहा पर हम अपनी तरफ से पूरी कोशिश करते है की आपको इंटरनेट से जुडी हर शानदार जानकारी दे पाये. वो भी बिलकुल सही तरीके से, यह हमारा एक छोटा सा कदम है Digital India की और क्योंकि पढ़ेंगे हम तभी तो आगे बढ़ेंगे हम. आईये जानते हैं API क्या है.
 

 
दोस्तों, जैसा की मैंने आपको बताया की हम आपको यहां पर इंटरनेट से जुडी सभी जानकारी देने की कोशिश करते है। तो आज भी मई आपके लिए एक ऐसी जानकारी लाया हु जो शायद आपके किये बहुत जरूरी हो. यह जानकारी API के बारे में है, जी हां, API के बारे में.

हम में बहुत से ऐसे लोग है, जिन्होंने API का नाम तो सुना है लेकिन उनको API के बारे में बिलकुल भी नही पता है। और कुछ तो ऐसे भी होंगे जिन्होंने API का नाम भी नही सूना है। तो आज हम आपको API के बारे में पूरी जानकारी देंगे। तो चलिए बिना वक्त गवाए शुरू करते है।
 

 

# API क्या है ? What is API [ Full Explained in Hindi ]

दोस्तों, सबसे पहले तो मैं आपको बता दू की API एक शॉट फॉर्म यानि छोटा नाम है जिसकी फुल फॉर्म Application Programming Interface है। ये एक प्रकार की एक ऐसी Programming होती है जो हमे किसी भी तरह की Application को तैयार करने में मदद करती है। इसे हम एक ऐसी प्रोसिसर भी ख सकते है जो की हमे एक एप्लीकेशन बनाने में मदद करती है।

हम यह भी ख सकते है की ‘यह एक दुसरे के बिच में एक प्रकार का कनेक्शन होता है’। शायद यह आपको ऐसे समाज में नही आ रहा होगा. चलिए इसे एक उदाहरण के माध्यम से समजते है. आपको याद होगा इंटरनेट पर कई सारी ऐसी ढेर सी वेबसाइट है जिन पर जाकर हम अपनई सुविधा अनुसार किसी भी साइट्स की कोई भी चीज़ वही पर बुक कर सकते है, यही है API.

चलिए इसे और सरल तरीके से समजते है। आपमें देखा होगा की बहूत सारे Wallet Apps आज कल मार्किट में चल रहे है जैसे PayTm, PhonePe, Jio Money आदि. इन वॉलेट App में जब हम Sign Up करके Log In करते है तो हम देखते है की हमे इनमे सभी प्रकार की सुविधा मिल रही है।

जैसे हम एक ही वॉलेट में किसी भी कंपनी का रिचार्ज कर पा रहे है या कह तो कर सकते है। हम उसी वॉलेट से दुनिया भर की DTH कंपनियो का रिचार्ज कर सकते है। साथ ही हम उसी वॉलेट से ही बहुत साडी कंपनियो के टिकट बुक कर सकते है। फिल्मो के टिकट खरीद सकते है। Hotel भी बुक कर सकते है और भी बहुत कुछ.
 

 
अब आप ही आसानी से सोच सकते है की वो एक ही वॉलेट यानि एक ही एप्लीकेशन या वेबसाइट कितनी साड़ी वेबसाइट से जुडी हुई है। उसका कांटेक्ट यानि कनेक्शन हजारो कंपनियो के डाटाबेस के साथ है उनके Set Up के साथ है जिसकी वजह से ही हम एक ही वॉलेट पे इतनी कंपनियो का आनंद ले पा रहे है। यही कनेक्शन API कहलाता है।

चलिए Smart Phone की बात करते है. आपने अपने स्मार्टफोन में कभी न कभी तो गेम खेल ही होगा, वह गेम कोई सा भी हो यह डिपेंड नही करता. और चाहे आपका स्मार्टफोन भी एंड्राइड हो या IOS और विंडो, इससे भी फर्क नही पड़ता. लेकिन आवे देखा होगा की कई बार हम जब गेम इनस्टॉल करते है तो वः हमसे कई बार परमिशन मांगता है।

उस परमिशन का नाम कुछ भी हो सकता है जैसे ‘Special Allow, Special Permission’ आदि। यह परमिशन हर फ़ोन में नही मांगता क्योंकि जो फ़ोन वीक सिक्यूरिटी के होते है उन्हें Apps या गेम के सिस्टम अपने आप Allow देते है और काम करने लगते है। लेकिन कुछ फ़ोन्स अच्छे होते है तो उनमे Game खेलने के लिए या उस App को इस्तमाल करने के लिए हमे परमिशन Allow करनी होती है।
 

 
क्या आपने सोचा है यह हमे क्यों करना पड़ता है, इसके पीछे क्या राज़ है ??, तो मैं आपको बता देता हु की यह Apps इस परमिशन के allow करने के बाद हमारे Smart Phone या Computer में चेक करता है और पूरा जाच लेता है की यह मोबाइल किस तरह का साउंड प्ले क्र सकते है, किस तरह का ग्राफ़िक्स इसमें प्ले हो सकता है और भी बहुत कुछ.

इसके बाद वह गेम और App अपने हिसाब से हमारे Smart Phone में बिना दिक्कत के आसानी से रन करता है। उसका ग्राफ़िक्स और साउंड भी अपने हिसाब से हमारे फ़ोन में कम्फर्ट करके चलता है। यह कनेक्शन API यानि Application Programming Interface के द्वारा ही बनता है, या फिर एक तरह से कहु तो यह खुद ही एक कनेक्शन है, एक डिजिटल कनेक्शन.

API एक प्रकार की Application या वेबसाइट की प्रोग्ग्रामिंग है जिससे वेबसाइट या एप्लीकेशन अलग अलग कंपनीज या प्रोग्ग्राम से कनेक्ट कर पाती है। यानि API के निर्माण से ही बहुत सारी चीज़े आसान हो गयी है। यानि आज हम API के मदद से ही Game खेल पाते है। इंटरनेट एक्सेस कर पाते है।
 

 
यानि अगर सीधी सी भाषा में देखा जाए तो API नही होता तो बहुत सी चीज़े मुश्किल हो जाती. जैसे हम इंटरनेट पर कोई एक वेबसाइट पर जाकर अपनी पसन्दीदा होटल आदि बुक नही क्र पाते. और ना ही हमे अपनी पसन्दीदा वेबसाइट यानि सर्च इंजन गूगल का फायदा ले पाते. क्योंकि गूगल भी एक API पर ही बेस्ड है। जो की दुनिया का सबसे बड़ा, Best और सिक्योर API है।

मैं आपको बता दू की आज कल इंटरनेट पर बहुत साड़ी प्रीमियम API Creator यानि अलग अलग तरह के API बनाने वाली कंपनिया आ गयी है। जो हमे कई सारे काम आसान बनाने में मदद करती है यह मदद Paid होती है। अगर हम चाहे तो हम भी Internet यानि Online और साथ ही Offline कोर्स लेकर भी API के बारे में सिख सकते है और इसमें भविष्य बना सकते है।

दोस्तों, में उम्मीद करता हु की आपको आज ‘API की पूरी जानकारी मिली होगी साथ ही यह भी आता चला हीग की यह काम कैसे करता है’। दोस्तों, ऐसी Amazing जानकारियां हम रोज़ाना लाते है HindiSeHelp.com पर, अगर आप भी इंटरनेट के फिल्ड में रूचि रखते हो और ऐसी जानकारियां रोजाना सीखना चाहते है तो कृपया हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद।

 

 

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here