चावल (Rice) क्या है ? चावल के फायदे और नुकसान | चावल के औषधीय गुण

धान के अंदर निकलने वाले बीज को चावल कहते हैं। चावल धान का छिलका हटाने से मिलता है। चावल बहुत बड़े स्तर पर खाया जाने वाला अनाज है। भारत में चावल से भात, खिचड़ी और बहुत सारे व्यंजन बनते हैं। चावल का चलन दक्षिण भारत और पूर्वी-दक्षिणी भारत में सबसे अधिक है। चावल को संस्कृत में ‘तण्डुल’ और तमिल में ‘अरिसि’ कहा जाता है।

 

 

चावल के फायदे

  1. चावल शरीर में ऊर्जा बढ़ाता है
  2. चावल में कार्बोहाइड्रेट अच्‍छी मात्रा में होता है, कार्बोहाइड्रेट शरीर की ऊर्जा बढ़ाने में कारगर होता है। चावल में पाए जाने वाले विटामिन, खनिज शरीर की कार्यप्रणाली को बढ़ाते हैं, जो ऊर्जा के स्‍तर को बढ़ाने का काम करते हैं।

  3. चावल खाने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है
  4. चावल में सोडियम की मात्रा बहुत ही कम होती है, जिस वजह से चावल को ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों के लिए एक अच्छा भोजन माना जाता है। सोडियम वाले खनिज न खाना सभी के लिए लाभदायक होते हैं।

  5. चावल मोटापा काम करने में कारगर है
  6. चावल अच्छे भोजन का एक अहम हिस्‍सा है क्‍योकिं यह स्‍वास्‍थ्‍य पर कोई गलत प्रभाव नहीं डालता है चावल हमें बहुत से महत्वपूर्ण पोषक तत्‍व होते हैं। चावल में कोलेस्‍ट्रॉल और सोडियम के कम होने के कारण यह मोटापे जैसी परेशानियों को कम करने में मदद करता है।

  7. चावल कैंसर के रोगियों के लिए फायदेमंद है
  8. चावल में घुलनशील फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है जो अलग अलग तरह के कैंसरो की बीमारी से बचाने में हमारी मदद करते हैं। अघुलनशील फाइबर कैंसर कोशिकाओं का विकास न होने देने में महत्‍वपूर्ण योगदान देते हैं। चावल में एंटीऑक्‍सीडेंट, विटामिन सी, विटामिन ए और फेनोलिक जैसे तत्त्व होते हैं जो शरीर से मुक्‍त कणों को कम करने में मदद करते हैं।

चावल का इतिहास

भारत चावल की खेती का एक महत्वपूर्ण केंद्र है। भारत में चावल की सबसे बड़े क्षेत्र पर खेती की जाती है। इतिहासकारों के अनुसार चावल की इंडिका किस्म बर्मा के माध्यम से पूर्वी हिमालय की तलहटी वाले क्षेत्र में सबसे पहले लगाई गई, जबकि थाईलैंड, लाओस, वियतनाम और दक्षिणी चीन में, बिही किस्म की जंगली किस्म को पालतू बनाया गया और इसे ही भारत में लाया गया था। बारहमासी जंगली चावल अभी भी असम और नेपाल में काफी मात्रा में होता हैं। पालतू बनाने के बाद दक्षिण भारत में 1400 ई.पू. के आसपास दिखाई दिया गया।

 

चावल से बनने वाले व्यंजन की सूची

  1. Veg Dum Biryani Recipe
  2. Veg Pulao Recipe
  3. Veg Fried Rice Recipe
  4. Khichdi Recipe
  5. Bisi Bele Bath Recipe
  6. Jeera Rice Restaurant Style Recipe
  7. Lemon Rice Recipe
  8. Tomato Rice Recipe
  9. Ven Pongal Recipe
  10. Ghee Rice Recipe
  11. Curd Rice Recipe
  12. Tamarind Rice Recipe
  13. Peas Pulao Recipe
  14. Schezwan Fried Rice Recipe
  15. Vegetable Tehri Recipe
  16. Mushroom Biryani Recipe
  17. Tawa Pulao Recipe
  18. Rice Kheer Recipe
  19. Vangi Bhaat Recipe
  20. Kashmiri Pulao Recipe
  21. Paneer Biryani Recipe
  22. Coconut Rice Recipe
  23. Paal Payasam Recipe
  24. Sambar Sadam Recipe
  25. Pudina Rice Recipe
  26. Paneer Pulao Recipe
  27. Plain Biryani Recipe
  28. Sweet Pongal Recipe
  29. Masala Khichdi
  30. Mango Rice Recipe

 

विश्व में सबसे ज्यादा चावल कहाँ होता है

2017-2018 के अनुसार विश्व में सबसे ज्यादा चावल यह देश पैदा करते हैं

  • चीन [208 मिलियन मैट्रिक टन]
  • भारत [169 मिलियन मैट्रिक टन]
  • इंडोनेशिया [74 मिलियन मैट्रिक टन]
  • बांग्लादेश [53 मिलियन मैट्रिक टन]
  • वियतनाम [44 मिलियन मैट्रिक टन]
  • थाईलैंड [34 मिलियन मैट्रिक टन]
  • म्यांमार [30 मिलियन मैट्रिक टन]
  • फिलीपींस [20 मिलियन मैट्रिक टन]
  • ब्राज़ील [12 मिलियन मैट्रिक टन]
  • पाकिस्तान [11 मिलियन मैट्रिक टन]
  • जापान [10 मिलियन मैट्रिक टन]
  • कंबोडिया [10 मिलियन मैट्रिक टन]
  • अमेरिका [9 मिलियन मैट्रिक टन]
  • नाइजीरिया [7 मिलियन मैट्रिक टन]
  • मिस्र [6 मिलियन मैट्रिक टन]
  • साउथ कोरिया [5 मिलियन मैट्रिक टन]
  • नेपाल [5 मिलियन मैट्रिक टन]
  • लाओस [4 मिलियन मैट्रिक टन]
  • श्रीलंका [3 मिलियन मैट्रिक टन]

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here