स्‍ट्रॉबेरी के फायदे और नुकसान

0
9001

स्‍ट्रॉबेरी(strawberry) ना केवल स्‍वाद में ही लाजवाब होती है मगर इसके कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं
रसीला स्ट्रॉबेरी लाल रंग का अपनी मनमोहक सुगंध व स्वाद के कारण विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय फल माना जाता है। स्‍ट्रॉबेरी का नाम सुनते ही हर किसी के मुंह में पानी आ जाता है। कई लोग इसे बहुत पसंद करते हैं मगर कुछ लोगों को यह बिल्‍कुल भी पसंद नहीं। इसका कई रूपों में उपयोग किया जाता है। स्ट्रॉबेरी का मिल्क शेक हो या फिर आइसक्रीम अथवा स्ट्रॉबेरी का मीठा दही या फिर जैम, किसी भी रूप में क्यों न हो, स्ट्रॉबेरी अपनी मनमोहक सुगंध के कारण विश्व का सर्वाधिक लोकप्रिय फल है। अब लगभग पूरे भारत में स्ट्रॉबेरी का फल उपलब्ध होता है और ताजे फल से लेकर विभिन्न रूपों में प्रयोग किया जाता है। इसका फ्लेवर इतना स्ट्रॉन्ग होता है कि इसे शेक, केक, चॉकलेट्स और कई और चीज़ों में इस्तेमाल भी किया जाता है। ये फल पूरी दुनिया में मशहूर है।स्ट्रॉबेरी को अगर सबसे आकर्षक फलों में से एक कहा जाए तो शायद ही किसी को आपत्ति हो. अच्छी बात ये है कि ये एक ऐसा फल है जो बच्चों को भी खूब पसंद आता है ।लेकिन यह फल स्वादिष्ट होने के साथ साथ आपके स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं और यह आपके शरीर की अलग-अलग बीमारीयों से लड़ने में सक्षम होते हैं.
 

1-प्रतिरक्षा को बढाती है
स्‍ट्रॉबेरी में विटामिन सी होता है जो कि आपके दिनभर की विटामिन सी की कमी को पूरा करती है। यह एक आपी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढा सकती है, जिससे आप दिनभर लगन से काम कर सकें।

2-आंखों के लिये स्‍ट्रॉबेरी
इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट तत्‍व होता है जो कि आंखों को मोतियाबिंद से बचाता है। हमारी आंखो को विटामिन सी की आवश्‍यकता होती है जिससे वह कडी सूरज की रौशनी और यूवी रेज से लड़ती नहीं तो आंखों के लेंस की प्रोटीन नष्‍ट हो सकती है।

3-कैंसर से लडे़
स्‍ट्रॉबेरी में एंटीऑक्‍सीडेंट और कैंसर से लड़ने वाले तत्‍व होते हैं जो कि कई तरह के कैंसर से लड़ सकते हैं। इसमें फ्लेवोनॉइड, फोलेट, केंफेरॉल और विटामिन सी होता है जो कि कैंसर पैदा करने वाले सेल का नाश करता है।

4-इम्यूनिटी बढ़ाए – स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है जो आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है, और आपको इंफेक्शन से बचाता है। आपकी दिनभर की विटामिन सी की आवश्यकता एक कप स्ट्रॉबेरी से पूरी हो जाती है। सर्दियां स्ट्रॉबेरी का सीज़न है, इसलिए इस सीज़न इस फल को भरपूर खाना चाहिए।

5-दिल की बीमारियों से सुरक्षा – ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस और इनफ्लेमेशन दिल की बीमारियों के दो बड़े कारण हैं और स्ट्रॉबेरी में ऐसे तत्व होते हैं जो इन दोनों पर आक्रमण करते हैं। स्ट्रॉबेरी में मौजूद फ्लेवोनॉइड्स और एंटीऑक्सीडेंट्स बैड कॉलेस्ट्रॉल से बचाव करता है जिससे धमनियां ब्लॉक होने से बच जाती हैं। धूम्रपान करने वाले लोगों में स्ट्रॉबेरी उस लिपिड पेरोक्सिडेशन को कम करती हैं जो दिल की बीमारियों का जोखिम बढ़ाता है।

6-डायबिटीज़ नियंत्रित करे – स्ट्रॉबेरी में 40 ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो काफी कम है। इसका मतलब है कि डायबिटीज़ के मरीज़ बिना ज़्यादा फिक्र किए इसे खा सकते हैं। इसके अलावा, रिसर्च में ये बात सामने आई है कि स्ट्रॉबेरी में ऐसे घटक होते हैं जो डायबिटीज़ के मरीज़ों के ग्लूकोज़ लेवल और लिपिड प्रोफाइल पर अच्छा असर डालते हैं। नियमित रूप से स्ट्रॉबेरी खाने से टाइप 2 डायबिटीज़ का जोखिम भी कम होता है।

7-वज़न घटाने में मददगार – स्ट्रॉबेरी में बहुत कम कैलोरी होती हैं। एक कप स्ट्रॉबेरी में 53 कैलोरी होती हैं। इनमें फाइबर होता है, इसकी वजह से इनको खाने के बाद पेट काफी देर तक भरा रहता है और आप अनहेल्दी स्नैक खाने से बच जाते हैं। इसमें मौजूद विटामिन सी आपका मेटाबॉलिज़्म तेज़ कर सकता है जिससे कि शरीर तेज़ी से कैलोरी बर्न करता है।

8- कब्ज में राहत – स्ट्रॉबेरी में काफी फाइबर पाया जाता है। पाचन क्रिया को बेहतर बनाने और बोवेल मूवमेंट को नियंत्रित करता है। स्ट्रॉबेरी में मौजूद फाइबर स्टूल पास होने में मदद करता है।

9-स्ट्रॉबेरीज खाने से आपके दांतों में सफेदी आती है
अगर आप अपने दांतों को सफेद और चमकदार बनाना चाहते हो तो स्ट्रॉबेरीज खाएं. क्योंकि स्ट्रॉबेरीज में विटामिन सी होता है. जो आपके दांतों के बीच जमी फलक को तोड़ देती है. जिससे आपके दांतों में पहले से ज्यादा सफेदी आ जाती है।

10-स्ट्रॉबेरीज आप में उम्र बढ़ने की गति को धीमी करती है
हमारी उम्र क्यों बढ़ती है ? क्योंकि हमारे शरीर में कोशिकाओं की उम्र बढ़ती है. लेकिन स्ट्रॉबेरीज खाने से हम इस प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं. स्ट्रॉबेरी एक मजबूत एंटीओक्सिडेंट होता है जो आपके शरीर में उम्र बढ़ाने वाले उग्र तत्वों से लड़ता है और उम्र बढ़ने की गति को धीमा करता है।

11-स्ट्रॉबेरी खाने से आपका अस्थमा और एलर्जी भी ठीक होगी
अगर आप अपने अस्थमे को रोकने के लिए अलग-अलग तरह की दवाईयां खाकर थक चुके हो तो आपको स्ट्रॉबेरी का इस्तेमाल करके देखना चाहिए. स्ट्रॉबेरी में ऐसे कई तत्व होते हैं जो आपको अस्थमा जैसी बीमारी को ठीक करने में मदद करते हैं ।

12-गर्भवती महिलाओं के लिए स्ट्रॉबेरी बहुत फायदेमंद है
स्ट्रॉबेरी गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि स्ट्रॉबेरी से मिलने वाले पोषक तत्व गर्भवती महिला के होने वाले बच्चे के लिए लाभदायक होते हैं. इससे बच्चे को जरूरी पोषक तत्व और पर्याप्त विटामिन मिलते हैं. जो उसके विकास के लिए जरूरी होते हैं।

13-कील-मुंहासों की समस्या के लिए
स्ट्रॉबेरी का इस्तेमाल कील-मुंहासों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी किया जाता है. इससे इस्तेमाल से पोर्स खुल जाते हैं जिससे त्वचा की भीतरी परत में मौजूद विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और चेहरे की गंदगी साफ हो जाती है. गंदगी साफ हो जाने की वजह से कील-मुंहासों की समस्या भी दूर हो जाती है।

14-झुर्रियां भगाए
विटामिन सी होने के नाते यह त्‍वचा में कोलाजेन अधिक पैदा करती है जो कि त्‍वचा में खिंचाव पैदा करता है। उम्र के साथ कोलाजेन नष्‍ट होता जाता है और चेहरे पर झुर्रिया पड़ने लगती है इसलिये विटामिन सी से भरे फल खाइये।स्किन के लिए अच्छी है बाज़ार में मिलने वाले कई सारे स्किन केयर प्रॉडक्ट्स जैसे कि फेसवॉश, एंटी-एजिंग क्रीम और मॉश्चराइज़र में स्ट्रॉबेरी एक्स्ट्रैक्ट और एसेंस होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि से फल फ्लेवोनॉइड्स और विटामिन्स से भरपूर होता है। ये तत्व फ्री रेडिकल्स से लड़कर आपकी स्किन पर झुर्रियां होने से रोकते हैं और स्किन को हेल्दी बनाते है ।

-विटामिन सी का ख़ज़ाना
रोजाना स्ट्रॉबेरी खा कर शरीर के लिए ज़रूरी विटामिन सी की कमी को आसानी से पूरा किया जा सकता हैं. विटामिन सी की मात्रा ना सिर्फ़ त्वचा की चमक बनाए रखने के लिए ज़रूरी होती हैं, बल्कि सिरदर्द और तनाव जैसी समस्याओं से निपटने में भी कारगर होती हैं. हाई या लो किसी भी प्रकार के ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने का गुण स्ट्रॉबेरी फल में होता हैं. स्ट्रॉबेरी का उपयोग करने से स्किन ग्लो करने लगती ।

-रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में स्ट्राबेरी का सेवन फ़ायदेमंद होता हैं. इसके अन्दर जो विटामिन C पाया जाता हैं, वह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत उपयोग में आता हैं. इसका कुछ हफ्ते सेवन करने से ही इसके परिणाम देखने को मिलते हैं।

-डिप्रेशन की रोकथाम में सहायक -स्ट्राबेरी में पाए जाने वाले पोषक तत्वों की सहायता से डिप्रेशन के मरीजों की रोकथाम में मदद मिलती हैं. यह उनके मूड को सही बनाये रखते हैं, जिससे उन्हें सकारात्मक ऊर्जा मिलती हैं और वे अच्छा महसूस करते हैं। वह तनाव दूर करने मे सहायक है ।

-गठिया रोग की रोकथाम में सहायक -स्ट्राबेरी में पाए जाने वाले एंटी – ओक्सिड़ेंट्स शरीर के जोड़ों में आने वाली अकड़ और जलन को रोकने में मदद करते हैं, जिससे गठिया रोग के उपचार में मदद मिलती हैं अथवा इसके होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती हैं।

-हड्डियों को मजबूती दे
स्‍ट्रॉबेरी में मैग्‍नीज अधिक पाया जाता है जो कि हड्डियों का ठीक प्रकार से विकास करता है। हड्डियों के लिये पोटैशियम, मैग्‍नीशियम, विटामिन के आद‍ि बहुत आवश्‍यक पोषण हैं।
-ब्‍लड प्रेशर ठीक करे
पोटैशियम दिल के स्‍वास्‍थ्‍य के लिये अच्‍छा है, यह हाई ब्‍ल्‍ड प्रेशर को लो करने में मदद करता है।
-जोड़ों की सूजन को कम करे
स्‍ट्रॉबेरी में एंटीऑक्‍सीडेंट और फाइटोकैमिकल होते हैं जो कि जोड़ों की सूजन को कम करता है।
-काले होठो पर स्ट्रॉबेरी का गुदा रगडने से होठ लाल
हो जाते है।
-जिन लोगो का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है, उनके लिए स्ट्रॉबेरी (Strawberry) के सेवन बहुत फायदेमंद है। स्ट्रॉबेरी खाने से बढा हुआ ब्लड प्रेशर कम हो जाता है।

प्रोटीन -डाइटरी फाइबर – कोलाइन – वसा
-शुगर -कार्बोहाइट्रेट -पैंटोथेनिक
– फॉस्फोरस
-विटामिन बी 6
-विटामिन सी -मैग्नीशियम
-लौह तत्व
-विटामिन के -ज़िंक -पोटेशियम
-विटामिन इ -मैगनीज
– कैल्शियम – सोडियम
पानी आदि वह होता है इसमे -स्‍ट्रॉबेरी में vitamin-c होता है जो की प्रतिरक्षा को बढाती है और आपके दिनभर की vitamin- c की कमी को भी पूरा करती है।इसका सेवन करे और स्वस्थ रहे लेकिन इसके मौसम मे ही खाए नही तो किसी चिकित्सक की सलाह ले । धन्यवाद ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here